XRP कॉइन का भविष्य क्या होगा | XRP $10 तक पोचेगा या नहीं | XRP कॉइन के बारे में सारी जानकारी

XRP coin in Hindi : दोस्तों, अभी हाल ही में XRP coin बहुत ज्यादा चर्चा में आया है। इसके चर्चा में आने का सबसे बड़ा विषय है इसकी कीमत। जो कि पिछले 1 हफ्ते के अंदर कुछ ज्यादा ही बढ़ चुकी है। कई लोग इसकी कीमत को देखकर इस कॉइन की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। अगर आप भी उनमें से एक हैं तो मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि इस की कीमत में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव आना आम बात है। क्योंकि इस कॉइन को बड़ी-बड़ी कंपनियां ट्रांजैक्शन के लिए इस्तेमाल करती है।

जब भी वह अपना पैसा इस कॉइन में डाल कर किसी दूसरे देश में भेजती है तो इस कॉइन की कीमत में अचानक से बहुत ज्यादा चढ़ावा जाता है। और अभी हाल ही में भी यही हुआ है किसी कंपनी ने कोई बड़ी ट्रांजैक्शन XRP कॉइन के जरिए की होगी जिसकी वजह से इसकी कीमत बढ़ गई है। इस कॉइन के साथ एक दिक्कत यह भी है कि इसकी कीमत जितनी जल्दी बढ़ती है उतनी ही जल्दी घट भी जाती है। और इसी कारण की वजह से ज्यादातर लोग इसको इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए इस्तेमाल करते हैं।

दोस्तों अगर आप लोग xrp कॉइन जिसे ripple भी कहा जाता है इसके बारे में पूरी जानकारी लेना चाहते है तो इस लेख को आखिर से लेकर अंत तक पढियेगा।

XRP के बारे में बात करे तो यह एक क्रिप्टोकरंसी है जो कि आज के समय में हर एक्सचेंज में उपलब्ध है। यह एक ऐसा क्रिप्टो कॉइन है जो की जबसे मार्किट में आया है तभी से इसने अपना स्थान TOP 10 कॉइन के बीच बनाया हुआ है। अब आप लोग यह सोच रहे होंगे कि यह कॉइन किस काम आता है। चिंता ना करें लेख पढ़ते रहे नीचे आपको XRP Ripple कॉइन के बारे में सारी जानकारी दी जाएगी

XRP coin in Hindi
XRP coin kya hai

XRP, Ripple और RippleNet कॉइन क्या है (What is XRP coin in Hindi)

XRP, Ripple और RippleNet यह तीनो अलग-अलग नाम है। Xrp एक क्रिप्टोकरेंसी है जो की RippleNet के ऊपर काम करती है। RippleNet एक डिजिटल पेमेंट प्लेफॉर्म है जो की Ripple कंपनी के द्वारा संचालित किया जाता है। और  Ripple ही वह कंपनी है जिसने XRP कॉइन को बनाया है । यह कॉइन अन्य कॉइन के मुकाबले बहुत तेजी से ट्रांजैक्शन करता है। XRP कॉइन के साथ हर 3 से 5 सेकंड के अंदर एक ट्रांसक्शन की जाती है।

और जैसा कि आपने बिटकॉइन को देखा होगा वह कितनी जल्दी ट्रांसक्शन करता है लेकिन मै आपको यह बताना चाहता हु की XRP बिटकॉइन से भी ज्यादा तेज ट्रांजैक्शन करता है। 

Xrp कॉइन क्या काम करता है (Work of XRP coin in Hindi)

Xrp कॉइन ज्यादातर पेमेंट करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह कॉइन किसी भी ट्रांजैक्शन को कम पैसों में ज्यादा तेजी से ट्रांसफर करता है। इसलिए आज के समय में यह कॉइन बहुत मूल्य है। इस कॉइन के लांच होने से पहले के समय में जो दूसरी टेक्नोलॉजी थी वह एक देश से दूसरे देश में पैसे ट्रांसफर करने में बहुत समय लगाती थी और कुछ ज्यादा ही ट्रांजैक्शन चार्ज लेती थी। लेकिन Xrp कॉइन के आते ही यह काम आसान हो गया। Xrp कॉइन ना तो ज्यादा चार्ज लेता है और कुछ सेकंड में ही एक देश से दूसरे देश में पैसे ट्रांसफर कर देता है। 

Xrp कॉइन के जनक कौन है(Who invent the XRP coin in Hindi)

Xrp coin  को Chris Larsen और Jed Mccaleb ने बनाया था। इनका इस कॉइन को बनाने का उद्देश्य यह था की XRP भविष्य में ट्रांजेक्शन से सम्बंधित आने वाले सभी समस्याओ को ख़त्म करेगा । Chris Larsen 1960 मे पैदा हुए थे और इनको बचपन से ही सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री में बहुत ज्यादा दिलचस्पी थी। उन्होंने xrp ripple कॉइन के अलावा और एक  कंपनी पहले खोली थी जिसका नाम  mortgage lender E-Loan है। इन्होने इस कंपनी को 1996 में खोला था और उसके बाद 2012 में रिप्पल कंपनी को शुरू किया।

XRP कॉइन का इतिहास(History of XRP coin in Hindi)

XRP कॉइन जब मार्किट में आया था तब इसकी कीमत बहुत ज्यादा कम थी और शुरुवात के कुछ सालो तक इसमें कोई बड़ा उछाल देखने को नहीं मिला था। लेकिन कुछ सालो के बाद यह कॉइन बहुत ज्यादा वोलेटाइल ब