रिसर्चर्स का दावा : Facebook Ads इतना पावरफुल कि सिंगल यूजर को तक किया जा सकता है टारगेट

स्पेन और ऑस्ट्रिया के शिक्षाविदों और कंप्यूटर साइंटिस्ट्स की एक टीम द्वारा लिखे गए एक नए रिसर्च पेपर ने दावा किया है कि यदि आप Facebook के प्लेटफॉर्म द्वारा उन्हें प्रदान की जाने वाले इंटरस्ट्स के बारे में पर्याप्त जानते हैं, तो केवल एक व्यक्ति को ऐड दिखाने के लिए फेसबुक के टार्गेटिंग टूल का उपयोग किया जा सकता है।

facebookads

“Unique on Facebook: Formulation and Evidence of (Nano) targeting Individual Users with non-PII Data” नाम से छपे इस  पेपर में  एक “डेटा-संचालित मॉडल” के बारे में बताया गया है जो एक मेट्रिक को परिभाषित करता है जिससे एक फेसबुक उपयोगकर्ता को Facebook ऐड प्लेटफार्म द्वारा उनसे जुड़ी रुचियों के आधार पर विशिष्ट रूप से पहचाना जा सकता है।

शोधकर्ताओं ने दिखाया कि वे कई विज्ञापनों (Ads) को टारगेट करने के लिए फेसबुक के ऐड्स मैनेजर टूल का उपयोग इस तरह से करने में सक्षम थे कि प्रत्येक विज्ञापन केवल एक ही, इच्छित फेसबुक उपयोगकर्ता तक पहुंच सके।

शोध फेसबुक के ऐड टार्गेटिंग टूल के संभावित हानिकारक उपयोगों के बारे में नए प्रश्न उठाता है और Facebook के व्यक्तिगत डेटा प्रोसेसिंग साम्राज्य की वैधता के बारे में भी सवाल खड़े करता है। लोगों से एकत्र की जाने वाली जानकारी का उपयोग व्यक्तियों को विशिष्ट रूप से पहचानने, उन्हे