बिटकॉइन क्या है और बिटकॉइन को भारत में कैसे खरीदे – Bitcoin in Hindi

Bitcoin in Hindi : Bitcoin kya hai : आज का समय कुछ इस प्रकार का हो गया है की लोगो के दिल में सामान्य पैसे जैसे की रूपए (₹), डॉलर ($), आदी की जगह cryptocurrency लेती जा रही है। जिस तरह cryptocurrency दिन प्रति दिन लोकप्रिय होती जा रही है। वह दिन अब दूर नहीं है जब हर एक घर में से कोई न कोई एक व्यक्ति cryptocurrency में invest करके बैठा होगा।

और cryptocurrency में invest करना अब जरुरी सा भी लगने लगा है। क्योकि जिस तरह की इसकी मार्किट है वहा पर किसी की भी किस्मत बदलने में समय नहीं लगता। लेकिन ऐसा जरुरी नहीं की वहा पर आपको प्रॉफिट ही मिले। cryptocurrency किसी के लिए बहुत अच्छी तो किसी के लिए बहुत बुरी भी हो सकती है।

मै तबसे आपको cryptocurrency के बारे में बताए जा रहा हु और वह इसलिए है क्योकि बिटकॉइन भी एक cryptocurrency है। अब हो सकता है की आप इसके बारे में थोड़ा बहुत पहले से जानते हो या यह भी मुमकिन है की आप इसके बारे में कुछ भी ना जानते हो। अगर इन दोनों चीजों में से कुछ भी है और अगर आप बिटकॉइन के बारे में जानना चाहते हो। तो आप बिलकुल सही जगह आये हो। 

क्योकि आज इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद आपको बिटकॉइन के बारे में सारी जानकारी मिल जाएगी। इस लेख में आज मै बिटकॉइन से सम्बंधित सभी प्रश्नो के ऊपर चर्चा करूँगा। जैसे की बिटकॉइन क्या है, बिटकॉइन कैसे काम करता है, बिटकॉइन का इतिहास, बिटकॉइन को भारत में कैसे खरीदे, आदी। तो अगर आप भी इन सभी चीजों के बारे में जानना चाहते है तो इस लेख को शुरू से लेकर आखिर तक पढ़िएगा। चलिए अब बिना और वक़्त गवाए शुरू करते है अपने सबसे पहले प्रश्न के साथ। Bitcoin kya hai?

Bitcoin in Hindi
बिटकॉइन क्या है? – Bitcoin in Hindi

बिटकॉइन क्या है – What is Bitcoin in Hindi

बिटकॉइन एक 100% decentralized डिजिटल currency है जिसको peer-to-peer बिटकॉइन network की मदत से संचालित किया जाता है। बिटकॉइन किसी भी प्रकार के बिचौली या Government authorities जैसे की central बैंक के द्वारा संचालित नहीं किया जाता है।

बिटकॉइन की जितनी भी transactions होती है वह एक public distributed ledger या फिर कहे सार्वजनिक वितरित खाता बही में रखी जाती है जिसको ब्लॉकचैन कहते है। और इसको कोई भी कभी भी देख, पढ़ और डाउनलोड कर सकता है।

बिटकॉइन सामान्य पैसो के जैसा ही होता है जैसे की सामान्य पैसो में एक रूपए के खंड करे या उससे तोड़े तो उससे छोटा पैसे होता है ठीक उसी प्रकार एक बिटकॉइन के खंड करने या उसको तोड़ने पर उससे छोटे सतोशी होते है। और जैसे 1 रूपए में 100 पैसे होते है ठीक उसी प्रकार एक बिटकॉइन में 1,00,000 (1 लाख ) satoshi होते है। और यह जरुरी नहीं होता की आप एक बार में पूरा एक बिटकॉइन खरीदे उसकी जगह आप एक बार में अपने budget के हिसाब से सतोषी खरीद सकते है। 

बिटकॉइन का मतलब क्या है – Bitcoin meaning in Hindi

बिटकॉइन एक ऐसा कॉइन है जिसका कोई वास्तविक अस्तित्व नहीं है। इसको सिर्फ ऑनलाइन खरीदा, बेचा और ऑनलाइन ब्लॉकचैन वॉलेट में रखा जा सकता है लेकिन इसको सामान्य पैसो की तरह छुआ नहीं जा सकता। ऑक्सफ़ोर्ड डिक्शनरी के हिसाब से बिटकॉइन “इलेक्ट्रॉनिक धन की एक प्रणाली है।  जिसका उपयोग ऑनलाइन खरीदने और बेचने के लिए किया जाता है, किसी भी केंद्रीय बैंक की आवश्यकता के बिना किया जाता है।”

बिटकॉइन के जनक कौन है – Who invented bitcoin in Hindi

बिटकॉइन को शिबा इनु कॉइन की तरह ही एक अनजान व्यक्ति ने बनाया था जिसके बारे में आज तक कोई पता नहीं लगा पाया। बिटकॉइन को बनाने वाले का नाम सतोषी नाकामोतो(Satoshi Nakamoto) है। बिटकॉइन के इस जनक के बारे में लोगो को यह तक नहीं पता की यह किसी एक अकेले व्यक्ति का नाम है या यह कोई एक पूरी संस्था थी। क्योकि बिटकॉइन के बनने के 2-3  साल के भीतर ही यह गायब हो गए थे। 

बिटकॉइन का इतिहास – History of Bitcoin in Hindi

बिटकॉइन को सतोषी नाकामोतो द्वारा 3 जनवरी 2009 में मार्किट में लाया गया था जब उन्होंने बिटकॉइन के सबसे पहले ब्लॉक को Mine किया था। इस ब्लॉक को ब्लॉक नंबर 0 और जेनेसिस ब्लॉक के नाम से भी जाना जाता है। बिटकॉइन के निकलने से 1 साल पहले ही सतोषी ने 18 अगस्त 2008 में बिटकॉइन का Domain name, bitcoin.org को रजिस्टर करा दिया था। 

सबसे पहला बिटकॉइन cypherpunk Hal Finney ने receive किया था जि