डोज कॉइन क्या है और इसको भारत में कैसे खरीदे

डोज कॉइन क्या है : Dogecoin in Hindi : आज के समय की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरंसी डोज कॉइन मानी जाती है। अगर आप इसके बारे में जानने की इच्छा रखते हैं तो जरूर आपने इसके बारे में कहीं ना कहीं सुना होगा। हो सकता है आपने इसके बारे में यूट्यूब, फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम जैसी सोशल मीडिया पर सुना हो। और दूसरे लोगों की सफलता की कहानियां सुनकर, कि कैसे वह डोज कॉइन से अमीर बन गए हैं। हो सकता है कि आप डोज कॉइन में इन्वेस्ट करना चाहते हो।

अगर आप भी डोज कॉइन में इन्वेस्ट करना चाहते हैं। तो मैं आपको बता दूं कि किसी भी चीज में अपनी मेहनत की कमाई लगाने से पहले आपको उसके बारे में पूरी जानकारी ले लेनी चाहिए। ताकि आपको यह पता चल जाए की आप अपना पैसा एक सही जगह लगा रहे हैं या नहीं।

तो अगर डोज कॉइन में इन्वेस्ट करने की इच्छा रखते हैं या फिर इसके बारे में जानने की चाहते हैं तो आप एकदम सही जगह आए है। क्योंकि आज के इस लेख में मैं आपको डोज कॉइन से संबंधित सारी जानकारी दूंगा। डोज कॉइन क्या है(What is Doge coin in Hindi), कैसे काम करता है (Work of Doge coin in Hindi), इसको भारत में कैसे खरीदा जा सकता है (How to buy Dogecoin in Hindi), आदि।

आज इस लेख को पढ़ने के बाद आपको डोज कॉइन के बारे में सारी जानकारी मिल जाएगी। तो बिना और वक्त गवाए चलिए जानते है Dogecoin details in Hindi. और शुरू करते हैं अपने सबसे पहले प्रश्न के साथ Dogecoin kya hai in Hindi

Doge coin in Hindi
Dogecoin in Hindi

डोज कॉइन क्या है?

डोज कॉइन एक डिसेंट्रलाइज क्रिप्टोकरेंसी है जिसका कोड नाम “DOGE” है। Dogecoin meaning in Hindi यह एक open – source डिजिटल करेंसी और एक Meme कॉइन भी है। इस कॉइन को बनाने का मुख्य उद्देश्य क्रिप्टोकरेंसी और ऑनलाइन ट्रांजैक्शन सिस्टम का मजाक बनाना था। लेकिन एकदम इसकी लोकप्रियता बढ़ने के कारण इसका प्रयोग ऑनलाइन ट्रांजैक्शंस जैसे कि किसी प्रकार की डोनेशन देना, आदि के लिए किया जाता है। 

डोज कॉइन को जितना चाहे उतना माइन किया जा सकता है। जहां ज्यादातर क्रिप्टोकरंसी या क्रिप्टो कॉइन एक सीमित मात्रा में उपलब्ध है। वहीं दूसरी तरफ डोज कॉइन की गिनती की कोई सीमा नहीं है, यह अनगिनत है। डोज कॉइन के लॉन्च के समय सिर्फ 100 बिलियन डोज कॉइन ही निकाले गए थे। लेकिन डोज कॉइन के निकलने के पहले साल के अंदर ही यह 100 बिलियन कॉइन से ज्यादा माइन कर लिए गए थे। जिसकी वजह से बाद में इसकी लिमिट को हटा दिया गया और अब यहां अनगिनत है।

डोज कॉइन के जनक कौन है?

डोजकॉइन के जनक Billy Markus और Jackson Palmer है। यह दोनों ही सॉफ्टवेयर इंजीनियर है जिसमे से Billy पहले IBM में काम करते थे और Jackson Adobe में।  

डोज कॉइन का इतिहास – History of Doge coin in Hindi

डोजकॉइन को 6 दिसंबर 2013 में Billy Markus और Jackson Palmer द्वारा लॉन्च किया गया था। शुरुआती दौर में इसको बनाने का मुख्य उद्देश क्रिप्टो करेंसी का मजाक उड़ाना था। लेकिन इस कॉइन बनाने का एक उद्देश्य और भी था कि डोज कॉइन उस समय के दूसरे कोई जैसे कि बिटकॉइन से अधिक इस्तेमाल किया जाए।

डोज कॉइन लॉन्च होने के 1 महीने के अंदर ही इसकी वेबसाइट dogecoin.com के ऊपर 1 मिलियन से भी अधिक लोग जाने लगे। जिसकी वजह से इसकी लोकप्रियता को देखते हुए इसको इनका इस्तेमाल ऑनलाइन ट्रांजैक्शंस के लिए किया जाने लगा।

डोज कॉइन को बनाने के लिए उस समय के पहले से स्थित लाइटकॉइन का इस्तेमाल किया गया था। इस कॉइन को बनाने के लिए Markus ने पहले से स्थित लाइटकॉइन के प्रोटोकॉल्स का इस्ते